सीधे मुख्य कॉन्टेंट पर जाएं
डैशबोर्ड पर जाएं
क्या आपको जानकारी नहीं है कि कहां से शुरू करना है? अपने हिसाब से सुझाव पाने के लिए, छोटे से क्विज़ में हिस्सा लें.
9 में से 5 लेसन
विज्ञापन के अलग-अलग साइज़ और फ़ॉर्मैट को समझें
डिजिटल विज्ञापनों से मिलने वाला रेवेन्यू बढ़ाएं
Prepare for third-party cookie deprecation
कोर्स
0% पूरा करें
5 मिनट इन लेसन को पूरा करना बाकी है

विज्ञापन के अलग-अलग साइज़ और फ़ॉर्मैट को समझें

विज्ञापन के अलग-अलग साइज़ और फ़ॉर्मैट से कीमतों और रेवेन्यू पर पड़ने वाले असर को समझें

किस तरह के विज्ञापनों से सबसे ज़्यादा रेवेन्यू मिलता है?

Blank

विज्ञापन देने वाले लोग या कंपनियां चाहती हैं कि उनके विज्ञापन सभी को दिखें, अच्छे दिखें, और लोग उन पर क्लिक करें. इसलिए, विज्ञापन का टाइप, साइज़, प्लेसमेंट, और यूज़र ऐक्टिविटी ऐसी चीज़ें हैं जो यह तय करती हैं कि किसी विज्ञापन से कितनी ज़्यादा कमाई होगी.

विज्ञापन के इन टाइप के लिए विज्ञापन देने वाले लोग या कंपनियां ज़्यादा पैसे देती हैं:

  1. नेटिव विज्ञापन ऐसे विज्ञापन होते हैं जो आपकी साइट के कॉन्टेंट से मेल खाते हैं और आम तौर पर प्रायोजित होते हैं.
  2. वीडियो विज्ञापन, वीडियो प्लेयर में वीडियो चलने से पहले, वीडियो के दौरान या वीडियो खत्म होने के बाद चलते हैं
  3. डिसप्ले विज्ञापन में रिच मीडिया शामिल होता है. इसमें वीडियो, ऑडियो या अन्य इंटरैक्टिव एलिमेंट होते हैं, जो आपकी पूरी साइट पर दिखते हैं

💡 Better Ads Standards में दिए गए सबसे सही तरीकों में, विज्ञापनों में लोगों की दिलचस्पी को बढ़ाने के सबसे अच्छे तरीके बताए गए हैं:

  • नेटिव विज्ञापन को साफ़ तौर पर लेबल करें, ताकि लोग उन्हें कॉन्टेंट समझने की भूल न करें.
  • अपने-आप चलने वाले वीडियो विज्ञापनों को म्यूट करें
  • लोगों को किसी वीडियो से पहले दिखाए जाने वाले वीडियो विज्ञापनों को स्किप करने की सुविधा दें
  • वीडियो के दौरान विज्ञापन न दिखाएं
  • पॉप-अप होने वाले, फ़्लैश होने वाले या बड़े डिसप्ले विज्ञापन न दिखाएं
  • ऐसे विज्ञापन न दिखाएं जिन्हें बंद करने के लिए इंतज़ार करना पड़ता है
  • विज्ञापनों के लिए सबसे बेहतर परफ़ॉर्म करने वाले साइज़ इस्तेमाल करें, जिन्हें विज्ञापन देने वाले ज़्यादातर लोग या कंपनियां पसंद करती हैं:
  • मीडियम रेक्टैंगल (300 x 250)
  • लार्ज रेक्टैंगल (336 x 280)
  • लीडरबोर्ड (728 x 90, टैबलेट के लिए सही माने जाने वाला साइज़)
  • चौड़ा स्काइस्क्रेपर (160 x 600)
  • साइज़लेस या रिस्पॉन्सिव (व्यक्ति के डिवाइस के हिसाब से अपने-आप सेट होने वाला साइज़)
Blank

पेज का लेआउट सेट करना

Blank

हम रोज़ाना इंटरनेट पर ब्राउज़ करने के लिए बड़ी स्क्रीन वाले डेस्कटॉप कंप्यूटर से लेकर छोटी स्क्रीन वाले मोबाइल डिवाइसों तक का इस्तेमाल करते हैं.

साल 2023 तक, दुनिया में हर व्यक्ति औसतन 3.6 डिवाइसों और कनेक्शन का इस्तेमाल बढ़ जाएगा.

स्क्रीन के साइज़ अलग-अलग होने की वजह से, कुछ विज्ञापन दिखते ही नहीं है. इन्हें विज्ञापन दिखने से जुड़े आंकड़ों से ट्रैक किया जाता है. किसी विज्ञापन को देखने लायक तब माना जाता है, जब उसका 50% हिस्सा कम से कम एक सेकंड तक दिखता हो. वीडियो विज्ञापन के मामले में, यह अवधि दो सेकंड की होती है.

💡 सबसे सही तरीके:

  • पेजों को सिर्फ़ एक फ़ोल्ड के लिए सेट करें, क्योंकि छोटा कॉन्टेंट लोगों को बेहतर तरीके से दिखता है
  • दिलचस्प कॉन्टेंट को, पहले पेज के ऊपरी हिस्से पर दिखाएं
  • स्क्रीन के निचले हिस्से के पास मिलते-जुलते लेखों की हेडलाइन दिखाएं. ऐसा करने पर, लोगों को पेज को नीचे तक स्क्रोल करने का बढ़ावा मिलता है
  • व्यूपोर्ट की सेटिंग का इस्तेमाल करके, पेजों को किसी भी स्क्रीन पर फ़िट होने के लिए सेट करें
  • Google पब्लिशर टैग का इस्तेमाल करके, रिस्पॉन्सिव विज्ञापन बनाएं. ये विज्ञापन किसी भी स्क्रीन पर फ़िट हो जाते हैं. अगर Google AdSense का इस्तेमाल किया जाता है, तो रिस्पॉन्सिव विज्ञापन यूनिट डिफ़ॉल्ट रूप से दिखेंगी.
Blank

विज्ञापनों का प्लेसमेंट

Blank

विज्ञापन देने वाले लोग और कंपनियां इस चीज़ की परवाह करती हैं कि उनके विज्ञापन किस तरह दिख रहे हैं. इस वजह से, सीधे तौर पर बेचे जाने वाले विज्ञापन अक्सर ज़्यादा रेवेन्यू देते हैं, क्योंकि प्रोग्रैम्ड तरीके से दिखाए जाने वाले विज्ञापनों के साथ काम करना चुनौती भरा होता है. जैसे, यह तय नहीं किया जा सकता कि ऐसे विज्ञापन पेज पर कहां दिखेंगे.

विज्ञापन के टैग की मदद से, विज्ञापन देने वाले लोग या कंपनियां यह जान पाती हैं कि उनके विज्ञापन कहां दिख रहे हैं. अगर आपने विज्ञापन के एट्रिब्यूट टैग किए हैं, तो विज्ञापन देने वाले संभावित लोगों या कंपनियों को विज्ञापन ढूंढने और उन पर बिडिंग करने में मदद मिलती है.

💡 सबसे सही तरीका: Better Ads Standards ने इन छह जगहों के बारे में बताया है. यहां विज्ञापन दिखाने से, लोगों को आपकी साइट पर बेहतर अनुभव मिलता है.

मोबाइल

  • ऐंकर किया गया सबसे ऊपरी बैनर
  • ऐंकर किया गया सबसे निचला बैनर
  • स्टैटिक इनलाइन

Desktop

  • दाईं ओर लंबा रेक्टैंगल
  • स्टैटिक बड़ा हेडर
  • स्टैटिक इनलाइन

💡 अन्य सबसे सही तरीके:

  • अपने विज्ञापनों को लेखों के बीच में रखें, ताकि वे स्क्रोल करने के दौरान आपको दिखें
  • विज्ञापनों को खेल या स्थानीय इवेंट जैसे विषयों या सेक्शन में टैग करें
  • उन जगहों को टैग करें जहां विज्ञापन दिखाए जाते हैं, जैसे कि हेडर
  • विज्ञापनों को उन जगहों पर न दिखाएं जहां बहुत कम या न के बराबर यूनीक कॉन्टेंट हो. इसके अलावा, बहुत सारे विज्ञापन दिखाने से बचें, क्योंकि विज्ञापन देने वाले लोग या कंपनियां चाहेंगी कि उनका विज्ञापन आपके कॉन्टेंट के पास दिखे
Blank

विज्ञापन तुरंत लोड करना

Blank

वेबसाइट की परफ़ॉर्मेंस पर पेज के लोड होने की स्पीड का बहुत असर पड़ता है. अगर किसी पेज को लोड होने में तीन सेकंड से ज़्यादा लगते हैं, तो उस पेज को छोड़ने की लोगों की संभावना 32% बढ़ जाती है. अगर पेज को लोड होने में पांच सेकंड से ज़्यादा लगते हैं, तो यह संभावना बढ़कर 90% हो जाती है.

खराब परफ़ॉर्म करने वाली साइटों के मुकाबले अच्छा परफ़ॉर्म करने वाली साइटें लोगों का ध्यान खींचती हैं और उनमें लोगों की दिलचस्पी बनी रहती है. उदाहरण के लिए, BBC ने पाया कि जब उनकी साइट को लोड होने में ज़्यादा समय लगा, तब हर सेकंड 10% लोग उनकी साइट छोड़कर चले गए.

कैसे पता करें कि खबरों वाली आपकी साइट अच्छा परफ़ॉर्म कर रही है?

  • क्या साइट के पेज को लोड होने में तीन सेकंड से कम समय लगता है?
  • क्या लोग किसी विज्ञापन पर तीन सेकंड से पहले क्लिक कर सकते हैं?
  • अगर लोगों को पेज के किसी हिस्से के लोड होने का इंतज़ार करना पड़ रहा है, तो क्या लोगों को उस हिस्से के लोड होने की जानकारी देने वाला मैसेज दिखाया जाता है, जैसे कि लोडिंग स्पिनर?

💡 सबसे सही तरीके:

  • PageSpeed Insights की मदद से जानें कि अपने पेजों के लोड होने की स्पीड कैसे बढ़ाई जाए
  • लेज़ी लोडिंग की सुविधा को चालू करें
  • WebP जैसे फ़ॉर्मैट का इस्तेमाल करके इमेज सेव करें. इससे इमेज तेज़ी से लोड होती हैं
  • अगर विज्ञापन लोड होने की स्पीड को बढ़ाने का तरीका जानना है, तो लाइटहाउस का इस्तेमाल करें
Blank
आप इस लेसन से किस हद तक संतुष्ट हैं?
आपके सुझाव, राय या शिकायत से, हमें अपने लेसन को और बेहतर बनाने में मदद मिलेगी!
लेसन पूरा करने के लिए, इस सवाल का जवाब दें.
विज्ञापन के इनमें से कौनसे साइज़ की परफ़ॉर्मेंस सबसे अच्छी होती है?
सबमिट करें
checklist (8)
क्विज़ पूरी हुई
बधाई हो! आपने अभी-अभी इसे पूरा किया Understand Ad Sizes and Formats
लेसन को दोबारा पढ़ें और फिर से कोशिश करें
in progress
Recommended for you
क्या आपको यह पेज छोड़ना है और अपनी प्रोग्रेस का डेटा मिटाना है?
इस पेज को छोड़ने पर, मौजूदा लेसन के लिए आपकी प्रोग्रेस का पूरा डेटा मिट जाएगा. क्या आपको वाकई इस पेज को छोड़कर अपनी प्रोग्रेस का डेटा मिटाना है?